महिलाओ के किन अंगो में छुपे होते है उनके सभी राज, आप भी जानिये

हिन्दू धर्म में स्त्रियों को लक्ष्मी का रूप माना जाता है, जिस घर में महिलाओं का सम्मान होता है, संकट उस घर के आपस-पास भी नहीं रहता और देवी-देवता उस घर में निवास करते है, क्योंकि हिन्दू धर्म में स्त्रियों को देवी का स्थान दिया गया है, लेकिन कुछ पुराणों में स्त्रियों के कुछ अंगो के बारे में बताया गया है, जिसमे स्त्रियों के अंगो को देखकर पता चल जाता है कि वह स्त्री बहुत भाग्यशाली है.

आज हम आपको स्त्रियों के ऐसे शुभ चिन्ह के बारे बतायेंगे जो लक्ष्मी के समान भाग्यशाली होती है.

वैसे तो सभी लडकियां भाग्यशाली होती है और हर लड़की को घर की लक्ष्मी माना जाता है लेकिन कुछ लडकियां इतनी सौभाग्यशाली होती है जिसके पैदा होते ही पिता का और शादी के बाद पति का घर प्यार और पैसे से भर जाता है और समाज में उनकी इज्जत भी कुछ ज्यादा ही होने लगती है. ऐसे कई पुराण है जैसे गरुड़ पुराण और भविष्य पुराण आदि पुराणों में महिलाओं के शुभ अंगो के बारे में बताया गया है, जिनको देखने से उसके वर्तमान और भविष्य के बारे में जाना जा सकता है. और जिन महिलाओ के ये शारीरिक अंग बड़े होते है तो उन्हें धनवान बनाने से कोई नही रोक सकता. जानिये महिलाओ के उन अंगो के बारे में.

महिलाओं के व्यवहार का पता उनके अंगो को देखकर ही लगा सकते है 

पुराणों के अनुसार स्त्रियों के ये अंग बढे हुए है तो समझ लेना कि यह स्त्री बहुत धनवान और परिवार के लिए भाग्यशाली है, जिन स्त्रियों की गर्दन लम्बी होती है वह सुख और ऐश्वर्य भोगने वाली होती है, लम्बी गर्दन वाली स्त्री को शुभ माना गया है.

जिस स्त्री की नाभि गहरी और थोड़ी दाई तरफ झुकी हो वह स्त्री धनवान और भाग्यशाली मानी जाती है, ऐसी स्त्री धन और वैभव के साथ-साथ अपने परिवार को संतान का सुख देने वाली होती है.

पुराणों के अनुसार बड़े सर वाली स्त्री भी धनवान और भाग्यशाली मानी जाती है और जिस स्त्री के घुटनों से ऊपर का हिस्सा मजबूत और मांसयुक्त होता है ऐसी स्त्री सबसे ज्यादा भाग्यशाली मानी जाती है.

वही जिन स्त्रियों के कान लम्बे होते है उसे भाग्यशाली और लम्बी उम्र वाली होती है और जिस स्त्री के बाल लम्बे और मुलायम होते है उस स्त्री को लक्ष्मी की तरह शुभ माना जाता है और लम्बे हाथो वाली स्त्री भी भाग्यशाली होती है.

- Advertisement -

फेसबुक वार्तालाप