बेटे की शादी में सिर्फ़ 18 हज़ार ख़र्च करने वाला ये IAS अफ़सर दे रहा है फ़िज़ूल ख़र्ची न करने की सीख

Avatar

हमारे देश में शादी-ब्याह में लोग अपनी क्षमता से ज़्यादा खर्च करने का माद्दा रखते हैं. वर्तमान में जहां अब इसे शो-ऑफ़ कहा जाए या रीति-रिवाज मगर अपने बच्चों की शादी में परिवार वाले लाखों रुपया पानी की तरह बहाने से नहीं चूकते. अपने बेटे की शादी में मात्र 18 हज़ार रुपये ख़र्च करने जा रहे हैं. वहीं आंध्र प्रदेश के एक भारतीय प्रशासनिक सेवा (IAS) अधिकारी अपने बेटे की शादी में मात्र 18 ख़र्च रुपये खर्च करने जा रहे हैं. इनका ये क़दम दूसरों के लिए एक मिसाल कायम कर रहा है.

इस अधिकारी का नाम पटनाला बसंत कुमार है और ये विशाखापत्तनम मेट्रोपॉलिटन रीजन डिवेलपमेंट अथॉरिटी (VMRDA) में आयुक्त के पद पर नियुक्त हैं. बसंत कुमार के बेटे की शादी 10 फरवरी को विशाखापट्टनम में है और इस शादी में वो सिर्फ़ 18000 रुपये ख़र्च करेंगे. गौर करने वाली बात ये है कि बसंत कुमार ने ख़ुद अपनी शादी में भी मात्र ढाई हज़ार रुपये ख़र्च किये थे. पटनाला के बेटे अभिनव एक बैंक में बैंक मैनेजर के पद पर कार्यरत हैं और उनकी होने वाली बहू लावन्या एक डॉक्टर हैं

TOI के अनुसार, पटनाला ने कहा,

 ‘ये मेरे सहयोगियों, राधा स्वामी सत्संग सभा के सदस्यों तथा अन्य लोगों के सहयोग से ही संभव हुआ है.’

इसके साथ ही उन्होंने बताया कि,

‘राधा स्वामी सत्संग का फ़ॉलोवर होने की वजह से मैं बेटे की शादी में 18 हज़ार से अधिक की राशि ख़र्च नहीं कर सकता था. शादी में वर और वधू दोनों के परिवारवाले 18-18 हज़ार रुपये ख़र्च करेंगे. इन रुपयों में अतिथियों का दोपहर का भोजन भी शामिल है. शादी में दोनों पक्ष के मिलाकर भी 100 से अधिक गेस्ट नहीं होंगे. खाने-पीने पर भी 15 से 20 रुपये प्रति प्लेट ख़र्च किया जाएगा. पंडित को एक हज़ार रुपये दिए जाएंगे.’

आंध्र प्रदेश और तेलंगाना के राज्यपाल ई.एस.एल नरसिम्हन इस सादे समारोह में जोड़े को आशीर्वाद देंगे. बसंत कुमार ने 2017 में अपनी बेटी की शादी भी इसी सादगी के साथ सिर्फ़ 16,100 रुपयों में ही की थी. आपकी जानकारी के लिए बता दें कि साल 2012 में बसंत कुमार को IAS कैडर में पदोन्नत किया गया था. इससे पहले वो गवर्नर नरसिम्हन के विशेष कर्तव्य और संयुक्त सचिव के पद पर कार्य कर चुके हैं.

- Advertisement -

फेसबुक वार्तालाप