देश की वो महान हस्तियां, जिनसे नफ़रत करने वाले आपको लाख खोजने पर भी नहीं मिलेंगे

दुनिया में चाहे कैसा भी आदमी हो, लोग उसमें कोई न कोई कमी निकाल ही लेते हैं. यहां तो आलम ऐसा है कि परिचय बाद में होता है और उसकी पहचान लोग पहले ही कर लेते हैं. एक बड़े शायर ने कहा भी है कि एक इंसान सबको खुश नहीं रख सकता, कुछ लोग तो भगवान से भी दुखी होते हैं. पर उसी धरती पर कुछ लोग ऐसे भी पैदा हुए हैं, जिनको आज तक बस लोगों ने प्यार ही दिया है. अगर कहीं भी उनका नाम लिया जाता है तो सब उनके प्रशंसक ही मिलते हैं. ऐसे लोगों की बुराई करने वाले ना के बराबर ही होते हैं.

अगर फिर भी आपको कोई ऐसा मिलता है, जो इन लोगों से भी नफ़रत करता हो, तो अपवाद हर जगह होते ही हैं.

1. ए पी जे अब्दुल कलाम

भारत के इस पूर्व राष्ट्रपति ने लोगों का बस दिल ही जीता है. देश के इस सपूत ने समाज के हर वर्ग को खुद पर गर्व करने का मौका दिया है. हिन्दू हो या मुस्लिम, कलाम का नाम सुनते ही सबका सिर ऊंचा हो जाता है.

2. राहुल द्रविड़

पूर्व कप्तान और महान क्रिकेटर राहुल द्रविड़ एक अलग ही शैली के खिलाड़ी रहे हैं. उन्होंने खेल में हमेशा अपना उत्कृष्ट प्रदर्शन किया है. भारतीय बल्लेबाजी की दीवार कहे जाने वाले राहुल के चाहने वालों की सीमा उनके आलोचकों से कई गुणा ज़्यादा है.

3. लाल बहादुर शास्त्री

भारत के द्वितीय प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री अपने महान व्यक्तित्व के लिए आज तक सराहे जाते हैं. महानता उनके चरित्र में घुल सी गई थी और उनसे नफ़रत करने वाले मुश्किल से ही मिलेंगे. जय जवान, जय किसान का नारा देकर उन्होंने देश को नई दिशा दी थी.

4. गौतम बुद्ध

ज्ञान की राह पर चलकर दुनिया का मोक्ष से परिचय कराने वाले अहिंसक संत महात्मा बुद्ध से नफ़रत करने वाले आपको ढूंढे नहीं मिलेंगे. इस महान संत ने खूंखार डाकू अंगुलीमाल को भी प्यार का पाठ पढ़ा दिया था.

5. नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी

एकदम धरती से उठकर आसमान की ऊंचाइयों को छूने वाले इस बेहतरीन अभिनेता से नफ़रत करने वाला शायद ही कोई मिले. सालों संघर्ष के बाद इस शख़्स ने पूरे देश को अपनी अभिनय का लोहा मनवा दिया है. आज बड़े स्टारों की फ़िल्म में भी लोग नवाज़ को देखने जाते हैं.

6. रजनीकांत

साउथ के इस हीरो की वहां पूजा की जाती है. भले ही आपको इस शानदार अभिनेता के नाम पर Memes दिख जायेंगे, मज़ाकिया चुटकुले दिख जायेंगे, पर इनसे नफ़रत वाले लोग नहीं मिलेंगे. इनकी फ़िल्मों का इतना क्रेज़ है कि उस दिन राज्यों में अवकाश दे दिया जाता है.

7. प्रेमचंद

कलम के जादूगर कहे जाने इस महान शख़्स से नफ़रत करने वालों को खोजना बहुत ही मुश्किल होगा. उनकी लेखनी समाज की आवाज़ होती थी. अपने लेख और कहानी में वो दूसरों के जीवन को चित्रित करके रख देते थे. भारतीय गद्य साहित्य से प्रेम करने वाला हर इन्सान प्रेमचंद का ऋणी है.

8. भगत सिंह

भारत की आज़ादी के यज्ञ में अपनी जान की आहुति देने वाले भगत सिंह हिंदुस्तान में ही नहीं, बल्कि पाकिस्तान में भी याद किये जाते हैं. युवाओं के लिए भगत सिंह रोल मॉडल हैं. युवावस्था में देश के लिए फांसी पर झूल जाने वाले भगत सिंह से नफ़रत करने वाले आपको कहीं नहीं मिलेंगे.

9. ग़ालिब

महान शायर मिर्ज़ा असदुल्लाह खां ग़ालिब का नाम ऐसा ही कोई होगा, जो नहीं जानता होगा. कर्ज़खोरी और शराब के शौक़ीन होने के बावजूद ग़ालिब से नफ़रत करने वाले एक-एक करके उनके दीवाने बनते गए. ग़ालिब ने अपने बारे में कहा था ‘होगा कोई ऐसा भी कि ग़ालिब को न जाने, शायर तो वो अच्छा है पर बदनाम बहुत है’. आज भी शायरों के फेहरिस्त में ग़ालिब का नाम सबसे ऊपर लिया जाता है. आशिकों के लिए ग़ालिब किसी फ़रिश्ते से कम नहीं हैं.

इन लोगों के अलावा आपके जेहन में कोई ऐसा नाम है, जिससे कोई नफ़रत ना करता हो, तो हमें कमेंट बॉक्स में बताएं. कई लोग तो ऐसे भी होते हैं, जिनसे आप नफ़रत करते हैं, पर चाहकर भी ज़ाहिर नहीं कर सकते. इस लिस्ट में आपके स्कूल के खडूस प्रिंसिपल और आपके ऑफ़िस के बॉस का नाम आता है.

अब इस आर्टिकल को शेयर कर देश के सारे लोगों को इन पर गर्व करने का मौका दें.

- Advertisement -

फेसबुक वार्तालाप