कहीं मिलती है शराब, तो कहीं नूडल्स और डोसा !! भारत के इन 10 मंदिरों में मिलता है सबसे अनुठा और विचित्र प्रसाद

ईश्वर के चरणों म परशाद चढ़ाना मतलब उनको भेट देने जैसा होता हैं और फिर उसे भक्तो के बिच में बता बह जाता हैं ।अक्सर बहुत ही स्वादिस्ट होती और इसे काफी कवित्र भी माना जाता हैं ।देवता के “दर्शन” के बाद देवता के भक्त, वे आम तौर पर मंदिर में प्रसाद की तलाश करते हैं। काफी मंदिरो में प्रसाद के तोर पर कुछ लोग खाना भी दे देते हैं ।

नूडल्स और चोकलेट जैसे प्रसाद भारत में काफी मंदिरो में दिए जाते हैं ।कुछ मंदिरो में बहुत ही नॉर्मल प्रसाद होता हैं जो की देवताओ के आगे चढ़ाया जाता हैं लेकिन कुछ मंदिर में प्रसाद के तोर पर काफी कुछ दिया जाता हैं जिस से भक्त काफी खुश हो जाते हैं ।

1. करनी देवी मंदिर, राजस्थान


इस मंदिर में जो प्रसाद बता जाता हैं वो चूहे की लार से सज्जित किया जाता हैं

2. काल भैरव मंदिर, उज्जैन


इस मंदिर में प्रसाद के तोर पर शराब चढ़ाई जाती हैं

3. बालासुब्रमानिया मंदिर, केरल


प्रसाद के तोर पर इस मंदिर में चॉकलेट दी जाती हैं ,बच्चो के लिए ये मंदिर काफी पसंदीदा हो सकता हैं ।

4. गोग्मेदी मंदिर, राजस्थान

राजस्थान के इस मंदिर में प्रसाद के तोर पर प्याज और मसूर दिए जाते हैं

5. गणपतिपुले मंदिर, महाराष्ट्र


ये मंदिर प्रसाद के रूप में एक हल्का फुल्का एक स्वल्पाहार होता है, इस मंदिर में खिचड़ी, अचार और बूंदी मिलती है।

6. चीनी काली मंदिर, कोलकाता


जी हाँ इस मंदिर में प्रसाद के तोर पर भक्तो को नूडल्स दी जाती हैं

7. अलागर कोविल मंदिर, तमिलनाडु


इस मनिदर में प्रसाद के रूप में डोसा दिया जाता हैं

8. तिरुपति बालाजी मंदिर, आंध्र प्रदेश


इस मंदिर में प्रसाद के तोर पर भक्तो को लड्डू दिए जाते हैं जो की सभी को पसंद होते हैं ।

9. श्री परमहंस, मध्य प्रदेश


इस मंदिर में प्रसाद के रूप में बिस्कुट दिए जाते हैं

10. मुरुगन स्वामी मंदिर, तमिलनाडु

इस मंदिर में फ्रूट जाम दिया जाता है।

- Advertisement -

फेसबुक वार्तालाप